Home Contact us Sitemap
Academics Accolades Life @ QVS Student Zone Parent Zone Social Initiatives List of Holidays Photo Gallery
   
  Whats New








27.09.2013 – अन्तर-कक्षा पात्र-परिचय प्रतियोगिता

साहित्य ‌ज्ञानवर्धन तथा मनोरजन का सर्वोत्तम माध्यम है |‌ हिन्दी साहित्य को अनेक रचनाकारो ने अपनी सुन्दर कृतियो से सुसज्जित किया है |‌ किसी भी कृति को सफल बनाने मे उसके पात्रो का अत्यंत महत्तवपूर्ण योगदान होता है |‌ पात्र पाठक या श्रोता के ह्रदय में स्थान बना पाएँ इसके लिए उनका प्रभावी होना अति आवश्यक है|‌कोई भी पात्र तभी प्रभावी होता है जब उसमें आदर्श तथा यथार्थ का सामंजस्य हो | ‘गोदान’ का ‘होरी’ तथा ‘निर्मला’ उपन्यास की ‘निर्मला’ ऐसे ही कुछ कालजयी पात्र है जो जन-मानस के ह्रदय पर अपनी अमिट छाप छोड़ गए| हिन्दी सप्ताह के अंतर्गत ‘क्वींस वैली स्कूल’ में ‘कक्षा- चौथी’ की छात्राओं के लिए ‘पात्र-परिचय प्रतियोगिता’ का आयोजन किया गया|‌ प्रतियोगिता में बाल कलाकारों ने २ मिनट की अवधि में अपने अभिनय का प्रदर्शन किया तथा अनेक पात्रों के बारे में ज्ञानवर्धक जानकारी दी | प्रतियोगिता का परिणाम इस प्रकार रहाः

नाम कक्षा स्थान
मल्लिका कुमार चौथी अ प्रथम
ऋषिका बांध्योपाध्याय चौथी ई द्वितीय
लावण्या चौथी  स तृतीय





25.09.2013 – अन्तर-कक्षा हिन्दी सुलेख प्रतियोगिता

सुंदर लेख मनुष्य के व्यक्तित्व का प्रतिबिंब होता हैं| प्रत्येक व्यक्ति की लिखावट उसके व्यक्तित्व के विषय में हमें बहुत सारी जानकारियाँ देती है| सुंदर लेख सुलझे एवं उन्नत विचारों की पहचान होती हैं| हम गंदी लिखावट से यह जान जाते हैं कि लिखने वाला अनुशासनहीन एवं अव्यवस्थित विचारों से संबंध रखता है| सुन्दर लेख की शुरूआत बच्चे के प्रारंभिक काल से विद्यालय में होती है| हिन्दी-दिवस " के अन्तर्गत क्वीन्स वैली विद्यालय में हिन्दी -पखवाडा आयोजित किया गया| प्रधानाचार्या जी की अध्यक्षता में इस प्रतियोगिता का आयोजन किया गया| इस अवसर पर छात्राओं को हिंदी की अनेक विधाओं से परिचित करवाने के लिये तथा हिंदी भाषा के प्रति रुचि उत्पन्न करने के लिये अनेक प्रतियोगिताओं का आयोजन किया गया, जिसमें छात्राओं के मध्य अनेक प्रतिस्पर्धाएँ हुईं| बच्चों के लेख को विकसित करने हेतु हिंदी सुलेख प्रतियोगिता का आयोजन किया गया| हिंदी सुलेख प्रतियोगिता में कक्षा तीसरी के सभी वर्गों के विद्यार्थियों ने भाग लिया| छात्राओं ने पूरे उत्साह, हर्षोल्लास एवं मनोबल के साथ प्रतियोगिता में भाग लिया| वर्णों की बनावट, खडी पाई, शिरोरेखा एवं मात्राओं के उचित प्रयोग के आधार पर उन्हें मूल्यांकित किया गया| प्रथम चरण में प्रत्येक वर्ग से तीन सर्वश्रेष्ठ प्रतियोगियों को चुना गया| प्रतियोगिता का मुख्य चरण २५ सितम्बर को आयोजित किया गया| सभी प्रतियोगियों ने बहुत ही उत्साह और मनोबल के साथ कलात्मक एवं सुन्दर रूप से अपने लेख प्रस्तुत किए| प्रतियोगिता का परिणाम इस प्रकार रहाः

नाम कक्षा स्थान
आशी शर्मा तृतीय - ब प्रथम
  अनीमा गांगले तृतीय – एफ द्वितीय
  मानसी सौलंकी तृतीय - द तृतीय





20.09.2013 – अन्तर-कक्षा कवि सम्मेलन प्रतियोगिता

कविता वह विधा है जो किसी भी साहित्य को नीरसता से सरसता की ओर मोड़ती है|यह विधा साहित्य को नवीनता प्रदान करती है| कविता मन के भाव दर्शाने का सर्वोत्म साधन है जिसके द्वारा हम सुख, दुख ,हर्ष, विषाद सब कुछ दर्शाते है|प्राथमिक स्तर पर छात्राओं को कविता पाठ के भावों से अवगत कराने के लिये यह प्रतियोगिता उत्तम समझी गई क्योंकि प्राथमिक स्तर पर ही कविता पाठ की सूक्ष्मताओं का ज्ञान कराने के लिए इस प्रतियोगिता का आयोजन किया गया| कविता मन के भाव दर्शाने का सर्वोत्म साधन है जिसके द्वारा हम सुख, दुख ,हर्ष,विशाद सब कुछ दर्शाते है|छात्राओं ने विभिन्न प्राचीन व आधुनिक काल के कवियों की कविताओं का वाचन किया| सामाजिक ,प्राकृतिक,बालमन,हास्य,देशभक्ति जैसे विभिन्न भावों की अभिव्यक्ति बहुत ही प्रभावी ढ़ंग से की|

क्वींस वैली स्कूल द्वारका के प्रांगण मे दिनांक २० सितम्बर को हिन्दी कविता सम्मेलन आयोजित किया गया|इस अवसर पर छात्राओं के लिये विभिन्न प्रतियोगितायें आयोजित की गई|इस अवसर पर छात्राओं को हिंदी की अनेक विधाओं से परिचित करवाने के लिये तथा हिंदी भाषा के प्रति रुचि उत्पन्न करने के लिये अनेक प्रतियोगिताओं का आयोजन किया गया|इसी क्रम में कक्षा पाँचवी की छात्राओं के लिये कविता पाठ प्रतियोगिता का आयोजन किया गया|

श्रोताओं की उपस्थिति इस समस्त कार्यक्रम में उल्लेखनीय एवं छात्राओं के उत्साहवर्धन का प्रमुख कारक रही| निर्णायकमण्डल ने इस प्रतियोगिता का परिणाम उद्घोषित किया| प्रतियोगिता का परिणाम इस प्रकार रहाः

नाम कक्षा स्थान
मान्या नेगी पाँचवीं – स प्रथम
आयुषी द्विवेदी पाँचवीं – अ द्वितीय
वैश्वी पाँचवीं – ई द्वितीय
मेघा भार्गव पाँचवीं – अ तृतीय





20.09.2013 – अन्तर-कक्षा रेडियो मिर्ची रिपोर्ट प्रस्तुतिकरण प्रतियोगिता
"सोच बदलो देश बदलो"


अपने भावों को अभिव्यक्त करने का साधन है भाषा यह भाषा केवल किताबो तक ही सीमित न रहकर विस्तृतरूप में सरिता की भाँति प्रवाहयमान है |जनसंचार के विभिन्न आयामों में एक आयाम है आकाशवाणी जिसमें हिन्दी भाषा ने अपना वर्चस्व स्थापित किया हुआ है | किन्तु समय परिवर्तन के साथ आकाशवाणी ने भी अपना स्वरूप परिवर्तन रेडियो मिर्ची के रूप में कर दिया |

" हिन्दी-दिवस " के अन्तर्गत क्वीन्स वैली विद्यालय में हिन्दी -पखवाडा आयोजित किया गया| प्रधानाचार्या जी की अध्यक्षता में इस प्रतियोगिता का आयोजन किया गया| जिसमें छात्राओं के मध्य अनेक प्रतिस्पर्धाएँ हुई | कक्षा दसवीं की छात्राओं दवारा "रेडियो मिर्ची रिपोर्ट प्रस्तुति" प्रतियोगिता में अपनी सहभागिता व विभिन्न विषयों पर प्रस्तुतिकरण द्वारा प्रतिस्पर्धा को रोमांचकारी व आकर्षक बनाया गया| छात्राओं ने सामूहिक रूप से प्रतियोगिता में भाग लिया व विभिन्न विषयों को हास्यपदात्मक रूप में प्रकट कर अपने कौशल व एकत्वभाव को प्रदर्शित किया | निर्णायकमण्डल ने इस प्रतियोगिता का परिणाम उद्घोषित किया| प्रतियोगिता का समापन प्रधानाचार्या जी द्वारा पुरस्कार वितरण करके किया गया| प्रतियोगिता का परिणाम इस प्रकार रहाः

नाम कक्षा स्थान
भूमिका सरस्वती , मुस्कान सोंलकी दशमी -अ प्रथम
सुगन्धिता चौहान,   सुमेधा तिवारी , मेधा सेठ, आकांक्षा तिवारी,    तमन्ना चौहान दशमी -अ द्वितीय
कोमल दहिया, दीपांशी शौकीन,
सोनिया सोलंकी,   निशा
दशमी -अ तृतीय


18.09.2013 – सुलेख प्रतियोगिता "हिन्दी दिवस"

हिन्दी दिवस के उपलक्ष में क्वींस वैली स्कूल में कक्षा पहली व दूसरी की छात्राओं के लिए ‘हिन्दी सुलेख’ तथा ‘कहो कहानी अपनी जुबानी’ प्रतियोगिताओं का आयोजन किया गया| छोटी बाल प्रतियोगियों ने पूरे उत्साह के साथ भाग लिया| प्रतियोगिता के अन्तर्गत सब छात्राओं के चेहरों पर उत्साह और प्रसन्नता के भाव झलक रहे थे| सुलेख प्रतियोगिता के सर्वश्रेष्ट प्रतियोगी रहे:

कक्षा- I
नाम कक्षा स्थान
गरिमा ज़ालपूरी पहली- बी प्रथम
क्रिशिका सिंह पहली- जी द्वितीय
रिद्धिमा सिंह पहली- सी तृतीय

कक्षा- II
नाम कक्षा स्थान
एकाक्षरा गर्ग दूसरी- ए प्रथम
अंजना दूसरी- सी द्वितीय
हर्षिता सहरावत दूसरी- डी तृतीय

17.09.2013 – कहो कहानी अपनी ज़ुबानी

पंचतंत्र की कहानियों से आरंभ हुई कहानियों में रोचकता, विविधता, सरसता व मनोरंजन की मात्रा प्रचूर रही| छात्राओं के मुख से उच्चारित प्रत्येक शब्द , उनकी भावविभोर करने वाली भाव भंगिमा व उत्साह ने करतालों की झड़ी सी लगा दी| इसी उत्साह व जोश के साथ "कहानी कथन प्रतियोगिता" का अंतिम चरण बाल मन की परतों में व्याप्त निःस्वार्थ प्रेम व चंचल मन को उजागर करने के साथ समाप्त हुआ|

कहो कहानी अपनी जुबानी के विजेता रहे:

कक्षा- I
नाम कक्षा स्थान
अक्षा पहली- डी प्रथम
गरिमा ज़ालपूरी पहली- बी द्वितीय
अस्मि बसु सरकार पहली- जी तृतीय

कक्षा- II
नाम कक्षा स्थान
बरखा दूसरी- एफ प्रथम
याशिता कौशिक दूसरी- ई द्वितीय
प्रार्थना शर्मा दूसरी- डी तृतीय

13.09.2013 – अन्तर-कक्षा मुहावरों की लुक्का छिप्पी प्रतियोगिता

प्रत्येक वर्ष क्वींस वैळी विद्याळय के प्रांगण में हिन्दी दिवस के सुअवसर पर विभिन्न प्रतियोगिताओं का आयोजन किया जाता है| हिन्दी दिवस के उपलक्ष्य में आयोजित इन प्रतियोगिताओं के माध्यम से छात्राओं के सर्वांगीण विकास की अवधारणा पर विशेष बल दिया जाता है| इस वर्ष भी हिन्दी दिवस के उपलक्ष्य में मुहावरों की लुक्का छिप्पी प्रतियोगिता का आयोजन किया गया| कक्षा सातवीं की सभी छात्राओं ने हर्षोल्लास के साथ इस प्रतियोगिता में भाग लिया| मुहावरों की लुक्का छिप्पी इस प्रतियोगिता में प्रथम चरण मुहावरों की अन्ताक्षरी का रखा गया| छात्राओं ने गीतों की अन्ताक्षरी के समान ही मुहावरों की अन्ताक्षरी को अत्यन्त पसंद किया व अपना पूरा सहयोग दिया | मुहावरों की लुक्का छिप्पी के माध्यम से व्याकरण के विषय मुहावरे को सरस, रुचिकर व ज्ञानार्जन का सशक्त माध्यम बनाया गया| प्रत्येक सदन की छात्राओं ने अपनी बुद्धिमत्ता व कुशाग्रता का परिचय देते हुए प्रतियोगिता को सफलता के चर्मोत्कर्ष तक पहुँचाया| प्रस्तुत विषय में नवीनता, अर्थगर्भिता व सटीकता के दर्शन हुए | छात्राओं ने प्रस्तुत नवीन विषयवस्तु का पूर्ण लाभ उठाया व ज्ञानार्जन किया | छात्राओं ने अपने विवेक और ज्ञान का पूरा लाभ उठाते हुए प्रत्येक प्रश्न का उत्तर पूरे उत्साह के साथ दिया | प्रत्येक सही उत्तर देने पर करतलों की ध्वनि से सभा गूँज उठी | श्रोताओं की भूमिका भी प्रशंसनीय रही | प्रतियोगियों का मनोबल बढाने हेतु उन्होंने भी अतुलनीय योगदान दिया| प्रतियोगिता के अन्तिम चरण में सभी प्रतियोगियों ने अपने ज्ञान का भण्डार न्यौछावर करते हुए प्रतियोगिता को सफलता की शिखा तक पहुँचाया | मुहावरों की लुक्का छिप्पी प्रतियोगिता में प्रथम स्थान कक्षा सातवीं की छात्रा ने प्राप्त किया|

प्रतियोगिता का परिणाम इस प्रकार रहाः
नाम कक्षा स्थान
संस्कृति, स्वाति राय, खुशी जोशी सातवीं अ प्रथम
हर्षिता रानी, साक्षी, इशिका बुद्धिराजा सातवीं स प्रथम
दिव्यानी सोखल, प्रियंका मान, तन्वी सातवीं ड द्वितीय
समृद्धि, सेजल, पारुल कोहली सातवीं ब तृतीय

अतः इस प्रकार मुहावरों की लुक्का छिप्पी प्रतियोगिता ने हिन्दी दिवस को नया आयाम व नूतन दिशा प्रदान की|

13.09.2013 – अन्तर-कक्षा नानी की कहानी हमारी जुबानी प्रतियोगिता

नानी की कहानियाँ प्राचीन काल से ही प्रचलित हैं| चाहे बाल्यावस्था हो, यौवनावस्था हो या वृद्धावस्था हो, यें कहानियाँ सदैव आनंदमय प्रतीत होती हैं| ये कहानियाँ हमें ऐसी सीख देती हैं जिन्हें हम जीवन -पर्यन्त नहीं भूल सकते| इन कहनियों को प्रायः बचपन में हमारी दादी या नानी सुनाया करतीं थीं| सोते-जागते, खाते-पीते, बच्चे इन कहानियों को बड़े आनंद से सुनते हैं| इन कहानियों के माध्यम से बच्चों की कल्पना-शक्ति भी बढती है| यें कहानियाँ अधिकतर जानवरों, पशु- पक्षियों आदि पर आधारित होती हैं|

हिंदी दिवस के उपलक्ष्य में हमने इन्हीं कहानियों को आज के परिवेश में ढालने का प्रयास किया है| अपनी कल्पना- शक्ति एवं अपने सामर्थ्य के अनुसार कहानियों में नई सोच तथा एक नवीन रूप का समावेश करने का प्रयास किया है| छात्राओं के इन प्रयासों से नवीनता एवं सृजात्मकता प्रस्फुटित होती है|

प्रतियोगिता का परिणाम इस प्रकार रहाः
नाम कक्षा स्थान
देवांशी आठवीं -अ प्रथम
श्वेता आठवीं -ब द्वितीय
चेतना आठवीं -ब तृतीय
अंजलि आठवीं- ड तृतीय





13.09.2013 – Investiture Ceremony

After the successful conduct of the election process in Queen’s Valley School under an online forum open for all the students from classes IX-XII in the, The Investiture Ceremony held on the 13th of September 2013 marked the culmination of our endeavour to inculcate an understanding of the transparent and accountable nature of democratic institutions.

The formation of the Students’ Council empowers the students to function as effective constituents of a democracy and realize the importance of every individual in the unobstructed functioning of such a political system. The ceremony commenced with the speech of the Principal. She emphasized on the rich democratic traditions of the school and reminded the office bearers of their responsibilities. She urged them to perceive themselves as indispensible nodes in the functioning of the system, thus proving true to the spirit of democracy. She also highlighted the significance of the Council in the betterment of the student community.

The students stood proudly in their designated places, eagerly waiting to receive their badges. The Principal pinned the badges which was followed by the Oath Taking Ceremony.

The newly elected members took the oath solemnly and promised to discharge their duties with honesty, integrity and to the best of their ability. They also promised to take the school to newer heights and wider horizons.




12.09.2013 – हिन्दी दिवस

हिन्दी दिवस के उपलक्ष में क्वींस वैली के प्रांगण में कक्षा प्री स्कूल और प्री प्राईमरी की छात्राओं के लिए हिन्दी सुलेख, हास्य कविता और दृश्य सामाग्री द्वारा अभिवयक्ति प्रतियोगिताओं का आयोजन किया गया |

हर प्रतियोगिता में इन नन्ही बालिकाओं ने उत्साह के साथ भाग लिया और अपने योग्यता का प्रदर्शन दिया | सभी छात्राओँ का योगदान सराहनीय है| सभी प्रतियागिताओं के नतीजे इस प्रकार है:

हिन्दी सुलेख - प्री प्राईमरी:
नाम कक्षा स्थान
आंशी जेसमिन प्रथम
जिनोबिया मरमेडिया द्वितीय
शिवानी एलिना तृतीय

हास्य कविता - प्री प्राईमरी:
नाम कक्षा स्थान
नविष्ठा गौरवी जेसमिन
एलिस
प्रथम
स्वीकृति
चेत्रा
सिन्ड्रेला
मरमेडिया
द्वितीय
स्नेहल रोजेटा तृतीय

शो एंड टैल - प्री स्कूल:
नाम कक्षा स्थान
वंशिका गुप्ता
हरमायरा कौर
रेपुंज़ल
एरियल
प्रथम
शिनू स्नोड्रॉप द्वितीय
मिष्टी नायक
सुदीक्षा
एजेलिना
एरियल
तृतीय


11.09.2013 – अन्तर-कक्षा वर्तनी ज्ञान प्रतियोगिता
"भाषा का आधार स्तम्भ"

भाषा का आधार स्तम्भ है" वर्तनी " किसी भी भाषा में निपुणता प्राप्त करने हेतु उसकी वर्तनी का ज्ञान अत्यावश्यक है| वर्णों व वर्तनी के सामंजस्य से भाषा को पूर्णता प्रदान होती है व भावों की पूर्णतः अभिव्यक्ति तभी संभव है जब छात्र वर्तनी ज्ञान के कौशल से परिपूर्ण हो इसी कौशल के परीक्षण हेतु हिन्दी दिवस के उपलक्ष्य पर क्वींस वैली विद्यालय में कक्षा छठी की छात्राओं के मध्य वर्तनी ज्ञान प्रतियोगिता का आयोजन उनके सत्रीय पाठ्यक्रमानुसार करवाया गया| निर्णायकमण्डल ने इस प्रतियोगिता का परिणाम उद्घोषित किया|

प्रतियोगिता का परिणाम इस प्रकार रहाः
नाम कक्षा स्थान
वेदैही वत्स छठी -अ प्रथम
देवांगी  शुक्ला छठी -ड द्वितीय
आरूशी अरोडा छठी - ब तृतीय

04.09.2013 – अन्तर-कक्षा मेरे विचार: मेरी अभिव्यक्ति

हिन्दी दिवस के उपलक्ष्य में हमारे क्वीन्स वैली स्कूल के प्रांगण में ‘मेरे विचार : मेरी अभिव्यक्ति’ प्रतियोगिता का आयोजन किया गया | भावाव्यक्ति प्रत्येक मनुष्य का अधिकार है| हमारे विचार ही हमारी अन्तर्रात्मा की आवाज है | वर्तमान समय विभिन्न समस्याओं से ग्रसित है| उदाहरणतया - भ्रष्टाचार,महँगाई,प्रदूषण,लिंग - भेद,नारी - शोषण और आतंकवाद आदि | प्रस्तुत समस्याएँ आम मनुष्य के जीवन का अभिन्न अंग बन गई हैं | इन्ही ज्वलंत समस्याओं को प्रकाशित करने का कर्णभार हमारे विद्यालय की कक्षा नवीं की छात्राओं ने उठाया | छात्राओं ने पूरे उत्साह, हर्षोल्लास व मनोबल के साथ अपने विचार विभिन्न ज्वलंत विषयों पर प्रकट किए | वातावरण की गंभीरता का बोध विषय वस्तु में होते परिवर्तन के अनुरूप दृष्टिगोचर हैं |

कक्षा नवीं की प्रत्येक प्रतिभागी ने अपने विचारों के माध्यम से वर्तमान समाज को नूतन दिशा एवं नवीन आयाम प्रदान किया | छात्राओं की करध्वनि से गुंजित सांस्कृतिक -कक्ष में संपूर्ण प्रतियोगिता का सफलतापूर्वक समापन हुआ|

अपने अंतिम चरण तक पहुँचते हुए ‘मेरे विचार’ विषय ने आज के समाज को नयी सोच को अपनाने और स्वयं को कुरीतियों से व संकुचित मानसिकता को त्यागने हेतु प्रेरित किया|

प्रतियोगिता का परिणाम इस प्रकार रहाः
नाम कक्षा स्थान
निधि कोचर नवीं अ प्रथम
तान्या सिंह नवीं ब प्रथम
रोमा नवीं अ द्वितीय
आरती नवीं ब तृतीय
Home
 
  Home | About us | Admission | Our Campus | Feedback | Contact us | Sitemap  
Copyright © Queensvalley.in, 2012, All right reserved Designed & Maintained by Design Mantras